« »

संकल्प

0 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 5
Loading...
Hindi Poetry

जो मुझे अच्छा लगे,
वह आपको भी भा जाए,
ज़रूरी तो नहीं।

बिल्ली चूहे के संग,
दोस्ती करे,
ऐसी लाचारी तो नहीं।

घोड़ा -घास के साथ,
मित्रता करे,
ऐसी मज़बूरी तो नहीं।

वोट दे न दे,
गल्त को दे,
ऐसे हालात तो नहीं।

दुनिया बदले या न बदले,
हाथ पर हाथ धरे रहना,
कोई हल तो नहीं।

सही करने की ठान लो,
हर्जाना चुकाना पड़ेगा,
यह नया विकल्प तो नहीं।

2 Comments

  1. Vishvnand says:

    बहुत अच्छे, बहुत बढिया,
    विचारों को प्रवृत करने का ये अंदाज़ बहुत मन भाया.

    वोट दें न दें
    गल्त ही जीतें,
    ऐसे हालात अच्छे तो नहीं.

Leave a Reply