« »

आइना(couplet)

0 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 5
Loading...
Hindi Poetry

हँसी यूँ  दिल में और ख़ुशी यूँ  चेहरे पे कभी न थी ,,,,
आइना  भी पूछ रहा है ये कौन सी तमन्नाओं  का आसमान है….!!!!!

8 Comments

  1. Vishvnand says:

    वाह वाह क्या बात है
    बहुत बढ़िया अंदाज़
    बधाई

    कभी कोई तमन्ना बिन दिल मुस्कुराता खुद पर बहुत खुश और शाद
    नही होता आइना देख उसे जवाब देना “क्यूँ ये” तब कोई आसान

  2. S.N. Singh says:

    aa eena kahne laga dekho hansi bhi aayi naa.
    bhar gayi sangeet se sooni teri tanhaayi naa.

  3. sushil sarna says:

    bahut sundr-badhaaee

  4. vinay says:

    दो लाइनों में हम सब हैं

Leave a Reply