« »

निर्णय

0 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 5
Loading...
Hindi Poetry

लेना हो ग़र

निर्णय

किसी विषय पर

तो लें न

इसे हड़बड़ी में

वर्ना पड़ सकते हैं

आप गड़बड़ी में.

निर्णय लेने से पहले

बस एक बात का

अवश्य रखें ध्यान.

सबसे पहले

सुनें  अपने दिल की,

फ़िर

सुनें अपने दिमाग की

और फ़िर अंत में

हो कर मजबूर

करें वही

जैसा चाहती है

बीवी आपकी

क्योंकि इसी में

निहित है

ख़ुशी आपकी.

8 Comments

  1. santosh bhauwala says:

    बहुत खूब !!!

  2. Siddha Nath Singh says:

    mahapurushon ke subhashit se duniya labhanvit ho yahi kaamna hai.

  3. Vishvnand says:

    वाह वाह बहुत खूब
    बात बहुत सच है . इसमें सबका भला है

    “करें वही जैसा चाहती है बीवी आपकी
    क्योंकि इसी में निहित है ख़ुशी आपकी”

    इसको थोडासा बदल दें तो

    भले करो वही जो है मर्जी आपकी
    पर ध्यान से सुनते रहो, कभी मना ना करो
    जो भी कहे बीवी आपकी
    नही तो समझ लो धुलाई आपकी

    • U.M.Sahai says:

      @Vishvnand, मेरी रचना आपको पसंद आई, इसके लिए व सुंदर टिप्पड़ी के लिए बहुत धन्यवाद, विश्व जी.

Leave a Reply