« »

नहीं बदले……..

1 vote, average: 5.00 out of 51 vote, average: 5.00 out of 51 vote, average: 5.00 out of 51 vote, average: 5.00 out of 51 vote, average: 5.00 out of 5
Loading...
Hindi Poetry

पीछे कंही छोड़ आये जो हम
ना जाने क्यूँ वो हालात नहीं बदले

ख्याल बदल दिए, मंजिलें बदल दी
फिर भी ना जाने क्यूँ वो जज़्बात नहीं बदले

पलकों को धीमे से झुका लिया हमने
उन पलकों में छुपे ख्वाब नहीं बदले

अपने होठों से तेरी हर बात छुपा दी
फिर भी वो अनकहे से अलफ़ाज़ नहीं बदले

9 Comments

  1. s.n.singh says:

    behad khoobsoorat,hindi font me daal den to kya baat hai.

  2. U.M.Sahai says:

    बहुत खूब, बधाई.

  3. Vishvnand says:

    वाह वाह क्या बात है
    बहुत बढ़िया और बखूब अंदाज़े बयाँ
    ज्यादा भाता गर आप रचना देवनागरी में पोस्ट करते यहाँ
    अभी भी edit कर पोस्ट कीजिये देर हुई है कहाँ ?

    site for English to Hindi trasliteration http://www.google.com/transliterate

  4. amit478874 says:

    Really a good one..! Agrre with Vishvnand Sir..! Keep posting & writing..

  5. thanks to all .. 🙂

  6. thanks to all .. 🙂

  7. Prem Kumar Shriwastav says:

    Sundar…

  8. parminder says:

    वाह, क्या ख़ूबसूरती से बयाँ किये वो सब जज़्बात, जो लाख कोशिशों के बावजूद नहीं बदले!

  9. Pooja says:

    Very nice..

Leave a Reply