« »

मायने

0 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 5
Loading...
Hindi Poetry, Uncategorized

बदल गए हैं मायने इंसान के

खिल उठे हैं चेहरे हैवान के

अब नहीं अवतार लेगा ए नवीन

टूट गए हैं हौसले भगवान के …..

 

मरहम भी लगा देंगे मगर मालूम हो

जख्म कितने बाकी हैं हिन्दुस्तान के ……

 

हो गए बुलंद कातिलों के अंदाज़

सबूत छोड़ते हैं अपनी पहचान के ……

 

हर तरफ मिल जायेंगे अब सनम

क्या करोगे लिख कर पते शमशान के …..

 

टूट गए हैं हौसले भगवान के ………

Leave a Reply